-->
पीएससी में खनिज सहायक भौमिकिविद् में कांकेर के अंकिता देहारी का हुआ चयन

पीएससी में खनिज सहायक भौमिकिविद् में कांकेर के अंकिता देहारी का हुआ चयन

 

दीपक पुड़ो ब्यूरो प्रमुख छत्तीसगढ़- कांकेर शहर के राजापारा कांकेर में रहने वाली अंकिता देहारी का पीएससी खनिज सहायक भौमिकिविद् में चयन हुआ, परिवार सहित राजापारा वार्ड में खुशी की लहर दौड़ी, दो दिन के साक्षात्कार के बाद घर पहुंची तो माता पिता, परिवार, वार्ड पार्षद आंनद चौरसिया सहित मोहल्ले वालों ने अंकिता का घुमधाम से स्वागत किया और मुंह मीठा करते हुए बधाई दिया। विदित हो कि अंकिता कृषि विभाग के मुख्य लिपिक रामचन्द्र देहारी और हेडमास्टर अनिता देहारी की छोटी पुत्री है जिन्होने साक्षात्कार में सबसे ज्यादा अंक हासिल कर इस पद में चयनित हुई है। अंकिता ने चर्चा में बताया कि उन्होने अपनी पढ़ाई पहली से पाँचवी कक्षा तक शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला राजापारा, टिकरापारा में, छटवीं से 12वीें तक सरस्वती शिशु मंदिर कांकेर में, स्नातक भूगर्भशास्त्र विषय से भानूप्रतापदेव स्नातकोत्तर कालेज कांकेर से पूरी करी और स्नातकोत्तर राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एन.आई.टी.) रायपुर में एप्लाईड जियोलॉजी से एम.टेक. की पढ़ाई पूरी करी है। फिर शिक्षक परीक्षा पास कर सहायक शिक्षक विज्ञान प्रयोगशाला के पद में हाईस्कूल धानापुरी, गुरूर जिला बालोद में सेवा दे रही थी। स्कूल में पढ़ाते हुए अपना विषय की तैयारी करती रही और इस पद में चयनित हुई। अंकिता ने बताया कि वे बहुत समय से ही पीएससी की तैयारी कर रही थी, जिसके लिए कड़ी मेहनत करी है। साक्षात्कार दो दिनों तक चला जिसमें पहला दिन दस्तावेज सत्यापन हुआ जिसमें कुल 36 अभ्यर्थी थे, साक्षात्कार में कुल 32 अभ्यर्थी ही पात्र हुई। सभी का बारी बारी से साक्षात्कार हुआ जिसमें 6 अधिकारियों द्वारा विषय से संबंधित, क्षेत्रीय, बोली, भाषा, परिधान, परिवेश, आज का समय के हिसाब से प्रश्न पूछे गये। मैने फार्म में अपनी रूची चित्रकारी दर्शाया था जिससे मुझे विषय और चित्रकारी से सबसे ज्यादा प्रश्न पूछे गये। अंकिता ने बताया कि विषय और अपने क्षेत्र के बारे में अच्छे से अध्ययन किया था जिसमें मेरे दोनो भाईयों ने भरपूर मद्द और सवालों के जवाब मुझे बताया, मेरी माँ ने मुझे साक्षात्कार के तैयारी करवायी और घर पर ही कई साक्षात्कार लेते थें जिसमें मुझसे घर पर ही कई सवाल पूछे जाते थें जिससे मेरी तैयारी बहुत अच्छे से हो पायी, और हमारे हल्बा समाज द्वारा भी समय समय पर निःशुल्क मोक टेस्ट एवं परिक्षापयोगी कार्यशाला, ओएमआर की जानकारी दिया जाता था जिससे भी मुझे मद्द मिला है, मै अपने माता, पिता, परिवार, वार्ड पार्षद, वार्डवासियों सहित हल्बा समाज को धन्यवाद देती हूँ, जिन्होने मुझे परीक्षा के लिए तैयार किया।

पार्षद आंदन चौरसिया ने बताया कि अंकिता शुरू से ही पढ़ाई में होशियार रही है, हर क्षेत्र में हमेशा अव्वल रही है, उनकी सफलता का राज उनकी कड़ी मेहनत और नियमित अध्ययन ही है, जिसका फल आज देखने को मिला है, जिसका प्रतिफल अंकिता ने साक्षात्कार में 30 अंको में से 25 अंक हासिल कर इस पद को हासिल की है, जिससेे हमारे वार्ड भी गौरवांवित हुआ है। इस खनिज विभाग के पद के लिए 32 अभ्यर्थीयों ने साक्षात्कार दिया जिसमें सिर्फ 18 अभ्यर्थी ही चयनित हुए है। अंकिता निहित ही आगे जायेंगी और हमारे वार्ड सहित परिवार और देश का नाम रौशन करेंगी। मै उन्हे खनिज सहायक भौमिकिविद पद में चयनित होने पर बहुत बधाई और शुभकामनाये देता हूँ।

0 Response to "पीएससी में खनिज सहायक भौमिकिविद् में कांकेर के अंकिता देहारी का हुआ चयन"

एक टिप्पणी भेजें