-->
KANKER कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने आदिवासी बालक आश्रम एवं गौठान का  किया निरीक्षण,  गौठान में गोबर खरीदी बढ़ाने ग्राम प्रमुखों को दी समझाईश,  महिलाओं को आय मूलक कार्य करने किया प्रोत्साहित

KANKER कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने आदिवासी बालक आश्रम एवं गौठान का किया निरीक्षण, गौठान में गोबर खरीदी बढ़ाने ग्राम प्रमुखों को दी समझाईश, महिलाओं को आय मूलक कार्य करने किया प्रोत्साहित

 

दीपक पुड़ो ब्यूरो प्रमुख छत्तीसगढ़- कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने आज नरहरपुर विकासखण्ड के आदर्श बालक आश्रम सोनपुर (कोर्रामपारा अमोड़ा) तथा अमोड़ा के ग्राम पंचायत में टीकाकरण कार्य और श्रीगुहान गौठान का आकस्मिक निरीक्षण कर उपलब्ध सुविधाओं एवं गतिविधियों की जानकारी ली तथा बेहतर करने के लिए प्रोत्साहित किया। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री एस.पी. वैद्य भी मौजूद थे।

         कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने आदर्श आदिवासी बालक आश्रम सोनपुर में कक्षा दूसरी एवं तीसरी के बच्चों को पढ़ाया तथा बच्चों को कविता सुनाने और हिन्दी विषय को पढ़कर बताने को कहा। इस विद्यालय में उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी भी उनके द्वारा ली गई तथा शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए आश्रम अधीक्षक एवं शिक्षकों को निर्देशित किया गया। विद्यालय परिसर में पौधारोपण के साथ किचन गार्डन विकसित करने के निर्देश भी दिये गये।



श्रीगुहान गौठान का निरीक्षण

          कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला एवं अपर कलेक्टर एस.पी. वैद्य द्वारा नरहरपुर विकासखण्ड के ग्राम श्रीगुहान के गौठान का निरीक्षण किया गया तथा ग्रामीणों से बातचीत कर गौठान में गोबर बेचने के लिए प्रोत्साहित किया। महिला स्व-सहायता समूह के सदस्यों से बातचीत कर उनके द्वारा गौठान में किये जा रहे विभिन्न आर्थिक गतिविधियों की जानकारी ली गई। समूह की सदस्य श्रीमती मथुरा कोड़ोपी ने उन्हें जानकारी देते हुए बताया कि गौठान में उनके समूह के सदस्यों द्वारा सब्जी उत्पादन, मुर्गी पालन, बत्तख पालन, बकरी पालन, गोबर से वर्मी कम्पोस्ट का निर्माण, लेयर फार्मिंग, मशरूम उत्पादन जैसे कार्य किये जा रहे हैं, जिससे उन्हें आमदनी हो रही है। दाल मिल भी स्थापित किया गया है तथा गोबर से गौ-कास्ठ बनाये जाते हैं। गौठान में पशुओं के लिए हरा चारा हेतु नेपियर घास भी लगाया गया है। गांव में कुल 12 महिला स्व-सहायता समूह हैं, जिनके 120 सदस्यों द्वारा प्रति सप्ताह बैठक आयोजित किया जाता है। कलेक्टर ने उन्हें आर्थिक आमदनी को बढ़ाने के लिए बेहतर कार्य करने और गांव के सभी लोगों का कोविड-19 टीकाकरण कराने के लिए प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर एसडीएम कांकेर धनंजय नेताम, तहसीलदार नरहरपुर अखिलेश धु्रव और जनपद सीईओ पी.के. गुप्ता भी मौजूद थे।

0 Response to "KANKER कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने आदिवासी बालक आश्रम एवं गौठान का किया निरीक्षण, गौठान में गोबर खरीदी बढ़ाने ग्राम प्रमुखों को दी समझाईश, महिलाओं को आय मूलक कार्य करने किया प्रोत्साहित"

एक टिप्पणी भेजें