-->
KANKER शिव मंदिर में धूमधाम से गया मनाया सावन का पहला सोमवार

KANKER शिव मंदिर में धूमधाम से गया मनाया सावन का पहला सोमवार

 

   दीपक पुड़ो ब्यूरो प्रमुख छत्तीसगढ़- शिव मंदिर में धूमधाम से गया मनाया सावन का पहला सोमवार, बता दे कि कांकेर नगर के ऊपर नीचे रोड स्थित डढ़िया तालाब के तट पर प्राचीन काल से भगवान भोलेनाथ नंदी स्वरूप में विराजे हुए हैं नंदी स्वरूप शिवलिंग के इतिहास के बारे में बताया जाता हैं की यह शिवलिंग प्राचीन है सैकड़ो साल पहले इस शिवलिंग की स्थापना राजा महाराजाओ द्वारा की गई थी यह शिवलिंग अनोखा अद्भुत एवं चमत्कारी है इस मंदिर में गणेश हनुमान पार्वती एवं गंगा जी की मूर्ति स्थापित है

 सन 2007 में मंदिर का जीर्णोद्धार किया गया जिसके बाद से मंदिर में विभिन्न पर्व बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया जाता है विशेषकर शिवरात्रि पर्व हनुमान जयंती रामनवमी जन्माष्टमी एवं पूरे सावन मास में प्रत्येक सोमवार को भगवान भोलेनाथ का विशेष श्रृंगार किया जाता है फूलों फलो मेवा एवं अंतिम सोमवार को छप्पन भोग से श्रृंगार कर सजाया जाता है सावन मास के तीसरे रविवार को शिव मंदिर समिति द्वारा भव्य कावड़ यात्रा का आयोजन किया जाता है सरंग पाल महानदी से जल लेकर शिव मंदिर तक कावड़ यात्रा का आयोजन किया जाता हैं यह यात्रा सात किलोमीटर की होती हैं पूरे यात्रा में जगह जगह गांव वालों के द्वारा स्वागत सत्कार किया जाता हैं, इस कावड़ यात्रा में हजारों की संख्या में श्रद्धालु भक्तगण हिस्सा लेते हैं वर्षभर शिवलिंग के दर्शन कर पूजा करने के लिए दूर-दूर से भक्त गण मंदिर आते हैं यहां की कहानियां एवं अनुभव भगवान भोलेनाथ के बारे में कहे जाते हैं 

धमतरी इलाके के एक सपेरे को अपने सपने में शिवलिंग के दर्शन हुए जिसके बाद मंदिर के बारे में पूछता हुआ कांकेर आया जिस समय वह कांकेर शिव मंदिर आया उस समय महाशिवरात्रि का पर्व था भक्तो की मंदिर में भीड़ थी सपने में दिखे शिवलिंग को देख आश्चर्यचकित हो गया जो शिवलिंग उसने सपने में देखा था वही शिवलिंग मंदिर में विराजित था शिवलिंग को देख सपेरे ने पूजा अर्चना की ऐसे बहुत से सच्ची घटनाएं हैं इस मंदिर के बारे में |

0 Response to "KANKER शिव मंदिर में धूमधाम से गया मनाया सावन का पहला सोमवार"

एक टिप्पणी भेजें