-->
भानुप्रतापपुर में कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन हड़ताल पर, हफ्तेभर शासकीय काम रहेंगे ठप

भानुप्रतापपुर में कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन हड़ताल पर, हफ्तेभर शासकीय काम रहेंगे ठप

 

संतोष बाजपेयी ब्यूरो प्रमुख कांकेर- छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन केंद्र के समान 34% महंगाई भत्ता और गृह भाड़ा भत्ता देने की मांग को पूरा कराने के मकसद से भानुप्रतापपुर में सोमवार 25 जुलाई से 5 दिन की हड़ताल पर बैठ गए हैं। इस मामले पर सभी कर्मचारी संगठनों ने एकजुट हैं , तथा संयुक्त रूप से स्थानीय लोक निर्माण विभाग विश्राम गृह के समक्ष हड़ताल पर  है। अधिकारियों कर्मचारियों की इस हड़ताल के चलते अगले 7 दिनों तक सभी सरकारी दफ्तरों में काम काज प्रभावित रह सकता है। सोमवार को भी हड़ताल की वजह से कई शासकीय स्कूल प्रभावित दिखे। अधिकांश स्कूल बंद दिखे, इन स्कूलों में शिक्षको की अनुपस्थिति में मात्र ऑवचारिकता निभा कर छुट्टी कर दी गई।

फेडरेशन के पदाधिकारियों ने बताया कि कर्मचारियों की यह हड़ताल 25 से 29 जुलाई तक है। इसके बाद 30 जुलाई को शनिवार और 31 को रविवार का अवकाश है। राज्य के कर्मचारी केंद्रीय कर्मचारियों के समान डीए (महंगाई भत्ते) और एचआरए (मकान किराया भत्ता) की मांग कर रहे हैं। अभी केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया जाता है। जबकि राज्य कर्मचारियों को महज 22 फीसदी ही मिलता है। इसको लेकर कर्मचारी फेडरेशन हड़ताल पर बैठे हुए है। कर्मचारियों की इस हड़ताल के कारण बहुत सारी सेवाएं प्रभावित हो जाएंगी। इनके प्रदर्शन से सरकारी काम-काज के अलावा स्कूल में पढ़ाई पूरी तरह ठप होने की आशंका है। ज्यादातर स्वास्थ्य, शिक्षा पर असर पड़ेगा।

 हड़ताल की वजह से सभी कार्यालय, नगर पंचायत, तहसील कार्यालय, पीएचई, पीडब्ल्यूडी, जल संसाधन, अस्पताल, कृषि विभाग, जनपद पंचायत,वन विभाग,पशु विभाग,ग्राम पंचायत में काम प्रभावित हुआ। यह प्रदर्शन छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के बैनर तले 25 से 29 जुलाई तक है। शनिवार व रविवार को सरकारी छुट्‌टी है। इसलिए सरकारी कार्यालयों में काम 1 अगस्त से ही शुरू होगा। बता दें कि इसके पहले 29 जून को इन्हीं 2 मांगों को लेकर एक दिवसीय सामूहिक हड़ताल पर थे। सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से दफ्तर वीरान हो गए थे। 

80 संगठन प्रदर्शन में शामिल..

 हड़ताल में राजपत्रित अधिकारी संघ, तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ, कर्मचारी कांग्रेस, राज्य कर्मचारी संघ, प्रदेश शिक्षक फेडरेशन, प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ, शिक्षक संघ, डिप्लोमा इंजीनियर एसोसिशन, लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ, प्रदेश लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ, अनु. जन. शास. सेवक विकास संघ, सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्रा अधिकारी संघ, पशु चिकित्सा सहायक शल्यज्ञ संघ, स्वा. एवं बहु. कर्म. संघ, स्वा. संयोजक कर्म संघ, वन कर्मचारी संघ, वन लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ, प्रदेश शिक्षक संघ, सहायक शिक्षक फेडरेशन, राजस्व पटवारी संघ, पिछड़ा वर्ग कर्मचारी संघ, राजस्व निरीक्षक संघ, संयुक्त शिक्षक संघ, शारीरिक शिक्षा व्यायाम संघ, व्याख्याता संघ आदि 80 संगठन शामिल है।

0 Response to "भानुप्रतापपुर में कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन हड़ताल पर, हफ्तेभर शासकीय काम रहेंगे ठप"

एक टिप्पणी भेजें