-->
कांकेर कलेक्टर आईएएस डॉ प्रियंका शुक्ला ने कांकेर क्षेत्रवासियों से कहा कि मुझे गिफ्ट नहीं समस्याएं बताएं एवं और आगे कहा की मुझसे निवेदन नही बल्कि मुझे आदेश दीजिए

कांकेर कलेक्टर आईएएस डॉ प्रियंका शुक्ला ने कांकेर क्षेत्रवासियों से कहा कि मुझे गिफ्ट नहीं समस्याएं बताएं एवं और आगे कहा की मुझसे निवेदन नही बल्कि मुझे आदेश दीजिए

 

संतोष बाजपेयी ब्यूरो प्रमुख कांकेर - बेहतर और जुदा कार्यप्रणाली के लिए पूरे प्रदेश में अलग पहचान रखने वाली महिला आईएएस डॉक्टर प्रियंका शुक्ला ने समस्याओं के ढेर सारे आवेदन के साथ गिफ्ट लाये एक आवेदक का गिफ्ट लेने से मना कर दिया। गिफ्ट लेने से मना करते हुए आवेदक को उन्होंने कहा कि मुझे गिफ्ट नही समस्याओं का कागज दीजिए। मुझसे निवेदन नहीं बल्कि मुझे आदेश दीजिए कि मुझे क्या करना है ।

डॉ प्रियंका शुक्ला इन दिनों कांकेर की कलेक्टर है। सोमबार को कलेक्टर ई जनचौपाल में आमजनों की समस्याओं से रु ब रु हो रही थी। इसी बीच सिंगार भाठा गांव के रहने वाले फरियादी राजेन्द्र कुंजाम भी वहाँ अपनी फरियाद लेकर पहुँचे। लेकिन इनके हाथों में समस्याओं के आवेदन के साथ-साथ गिफ्ट का एक पैकेट भी था। राजेन्द्र ने कलेक्टर को बताया कि उसने उनका नाम बहुत सुना है और उनके आने से यह लगने लगा है कि क्षेत्र की बुनियादी समस्याएं अब खत्म हो जाएंगी। इसलिए एक भाई के नाते वह उनके लिए उपहार स्वरूप एक साड़ी लाया है। फरियादी की भावनाओ का सम्मान करते हुए कलेक्टर ने बड़े ही विनम्रता से गिफ्ट लेने से मना कर दिया और कहा-मुझे गिफ्ट नहीं चाहिए मुझे आप समस्याओं का कागज दीजिए ये मेरा काम है,मुझसे निवेदन नहीं बल्कि मुझे आदेश दीजिए कि मुझे क्या करना है ।

दरअसल राजेन्द्र सड़क चौड़ीकरण,सड़क निर्माण सहित 18 बिन्दुओ पर कलेक्टर को आवेदन देने आए थे ।कलेक्टर ने उनका आवेदन लिया और उन्हे कार्रवाई का भरोसा दिया।


0 Response to "कांकेर कलेक्टर आईएएस डॉ प्रियंका शुक्ला ने कांकेर क्षेत्रवासियों से कहा कि मुझे गिफ्ट नहीं समस्याएं बताएं एवं और आगे कहा की मुझसे निवेदन नही बल्कि मुझे आदेश दीजिए"

एक टिप्पणी भेजें