-->
 भाजपा पार्षदों ने किया नगर निगम रायपुर का घेराव, मुख्य द्वार पर की तालाबंदी

भाजपा पार्षदों ने किया नगर निगम रायपुर का घेराव, मुख्य द्वार पर की तालाबंदी


अमृतेश्वर सिंह रायपुर- भाजपा  जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी नगर निगम रायपुर नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे के नेतृत्व में नगर निगम रायपुर के सभी भाजपा पार्षद अपने वार्डवासियों के साथ निगम कार्यालय घेराव करने पहुंचे। ये सभी पार्षद और वार्डवासी पहले यहां धरने पर बैठे, महापौर और निगम प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबारी की। महापौर एजाज ढेबर पर स्मार्ट सिटी के पैसे खाने और इसके दुरुपयोग, अवैध कॉलोनियों को संरक्षण देने,संपत्ति कर हॉफ शहर की समस्याओं की ओर कोई ध्यान नहीं देने सहित कई गंभीर आरोप लगाए ।

दरअसल, शहर में जलभराव की समस्या, लोगों को आवास योजना का लाभ दिलाने, अवैध कालोनियों , संपत्ति कर हॉफ , पेयजल समस्या सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर रायपुर के भाजपा पार्षदों ने मोर्चा खोल दिया , शुक्रवार को भाजपा रायपुर शहर जिला , भाजपा पार्षद दल और वार्डवासियों द्वारा नगर निगम का घेराव किया गया। इस दौरान महापौर के विरोध में नारेबाजी करते हुए  इस्तीफे की मांग की । भाजपा पार्षदों ने महापौर और निगम प्रशासन की कार्यप्रणाली पर उठाया सवाल भाजपा पार्षदों ने रायपुर नगर निगम प्रशासन की कार्यप्रणाली और महापौर के कार्य पर सवाल उठाते हुए गंभीर आरोप लगाए भाजपा पार्षदों ने महापौर पर केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी योजना के तहत कराए जा रहे कामों के पैसों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया।  पार्षदों और बीजेपी के नेताओं ने कहा कि, लोगों को आवास योजना का लाभ नहीं मिल रहा है, शहर में सफाई, अवैध कॉलोनी और जलभराव से लोग परेशान है, लेकिन इन समस्याओं को दूर करने के अलावा महापौर और निगम प्रशासन लोगों के पैसे खा रहे है। प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लोगों को नहीं दे रहे है

शहर की समस्याओं से महापौर को अवगत कराने पार्षदों के साथ बड़ी संख्या में वार्डों के लोग पहुंचे। निगम कार्यालय के बाहर जमकर नारेबाजी हुई। महापौर से इस्तीफे की मांग करते हुए निगम प्रशासन से समस्याओं को दूर करने की मांग की गई। वार्डवासियों ने कहा कि, हम शहर की बस्तियों में रहते है। गंदी नालियों से सभी परेशान है, नियमित सफाई नहीं होने से नालियां जाम हो जाती है जो बीमारी का घर है हमारे परिवार के सदस्य बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं निगम के कर्मचारी केवल कॉलोनियों और जहां उंचे औहदे के लोग रहते है वहां ही पहुंचते है। आवास योजना की आश हम कब से लगाए हुए है लेकिन हमें किसी भी योजना का लाभ नहीं हो मिल पा रहा इस दौरान भाजपा के युवा नेताओ ने निगम की लचर व्यवस्था से परेशान होकर मुख्य द्वार पर ताला जड़ते हुए कहा कि जब निष्क्रिय ही रहना है तो निगम में ताला ही लगा दिया जाए कम से कम निगम संचालन के खर्च की मदो में तो कमी आएगी । 

   भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी ने कहा लोग पानी की समस्याओं से जूझ रहे है नलों में लंबी लाइनें लगानी पड़ती है नल-जल योजना के तहत घरों में नल तो लगा दिया गया है, लेकिन घर तक पानी नहीं पहुंच पाता इसकी शिकायत करने पर निगम के अधिकारी कहते है कि घर उचान में है जिससे पानी का फ्लो नहीं बन पाता हमारी यही शिकायत है कि, जब  घर ऊँचे में है तो बीना जांच किए घरों में नल क्यों लगा दिया गया , केंद्र सरकार द्वरा अमृत मिशन के तहत हर घर जल हेतु करोड़ो रूपये की राशि आबंटित की जा चुकी है लेकिन क्रियान्वयन पर कमीशन खोरी और घोटाले की बू आती है लोगो को संपत्ति कर हॉफ का जुमला दिया गया मगर कम करना तो दूर की बात उल्टा बढ़ी हुई राशि मे कर पटाना पड़ रहा है हमारी अन्य शिकायतों पर भी कोई एक्शन नहीं लिया जाता महापौर और निगम की कार्यप्रणाली पूरी तरह से निष्क्रिय  एवं कमीशन खोरी से ग्रस्त है ।

वही नेता प्रतिपक्ष मीनल चौबे ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास के नाम पर हितग्राहियों को आवास नहीं मिल रहा है यहां जरुरत के लोगों को छोड़कर अपने लोगों को आवास दिया जा रहा है विरोध करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है  उन्होंने आगे कहा कि मानसून की शुरुआत हो चुकी है लेकिन अभी तक नाले-नालियों की सफ़ाई नहीं हुई है इससे शहर की जनता परेशान है हर साल शहर की जनता जलभराव की समस्या से जूझते नजर आती है शहर के हृदय स्थल का बदतर हाल किसी से छुपा नही है लेकिन  फिर भी नालियों को दुरुस्त करने की प्रभावी योजना नजर नही आती जलभराव की समस्या निवारण में महापौर और निगम हर वर्ष फेल होती है वहीं अमृत मिशन पर उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत स्तरहीन कार्य किया जा रहा है ठेकेदार अपनी मनमानी में मस्त है और अधिकारी आंख मूंद कर बैठे हैं। म…

0 Response to " भाजपा पार्षदों ने किया नगर निगम रायपुर का घेराव, मुख्य द्वार पर की तालाबंदी"

एक टिप्पणी भेजें