-->
फिर एक बार दिया कांकेर कलेक्टर के.एल.चौहान ने संवेदनशीलता का परिचय, कोरोना संक्रमण की इतनी व्यस्तता के चलते भी, 24 घंटे के भीतर गाज (आकाशीय बिजली) गिरने से मृत्यु के प्रकरण में प्रभावित परिवारों को आर्थिक सहायता किए स्वीकृत

फिर एक बार दिया कांकेर कलेक्टर के.एल.चौहान ने संवेदनशीलता का परिचय, कोरोना संक्रमण की इतनी व्यस्तता के चलते भी, 24 घंटे के भीतर गाज (आकाशीय बिजली) गिरने से मृत्यु के प्रकरण में प्रभावित परिवारों को आर्थिक सहायता किए स्वीकृत

दीपक कुमार पुड़ो@
कांकेर -यूं तो आप सब जानते हैं कि कांकेर जिला प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण से बचने के लिए किस तरह जिले पर नजर बनाए बैठे हैं। तो वही एक बार फिर अपनी संवेदनशीलता का परिचय देते हुए कांकेर कलेक्टर के.एल.चौहान ने इतनी व्यस्तता के चलते भी  24 घंटे के भीतर, गाज (आकाशीय बिजली) गिरने से मृत्यु के प्रकरण में प्रभावित परिवारों को आर्थिक सहायता स्वीकृत किये गये  है।                   
                     
गौरतलब है कि ग्राम तेंलावट के 35 वर्षीय रोहिदास खरे और 23 वर्षीय सीताराम की 29 मार्च को गाज गिरने से मौत हो गई थी, जिसके प्रकरण में त्वरित कार्यवाही करते हुए कलेक्टर चौहान ने राजस्व एवं आपदा प्रबंधन के तहत प्रदत्त अधिकारों का प्रयोग करते हुए रोहिदास खरे के निकटतक आश्रित उसकी पत्नि हेमिनबाई के लिए चार लाख रूपये और मृतक सीताराम के निकटतम आश्रित बिरझूराम भोयना एवं  रामबती बाई के लिए चार लाख रूपये सहायता राशि स्वीकृत किये हैं। स्वीकृत सहायता राशि का भुगतान तहसीलदार कांकेर के माध्यम से किया जायेगा। 

0 Response to "फिर एक बार दिया कांकेर कलेक्टर के.एल.चौहान ने संवेदनशीलता का परिचय, कोरोना संक्रमण की इतनी व्यस्तता के चलते भी, 24 घंटे के भीतर गाज (आकाशीय बिजली) गिरने से मृत्यु के प्रकरण में प्रभावित परिवारों को आर्थिक सहायता किए स्वीकृत"

एक टिप्पणी भेजें